Friday, June 26, 2020

सूर्यग्रहण का अद्भुद नजाराAmazing view of solar eclipse

सूर्यग्रहण का अद्भुद नजाराAmazing view of solar eclipse
बाल वैज्ञानिकों ने लिया सूर्यग्रहण का अद्भुद नजारा
15 खुद के बनाये उपकरणो से अवलोकन किया वलयाकार सूर्यग्रहण।
सी वी रमन विज्ञान क्लब के सदस्यों ने क्लब समन्वयक दर्शन लाल बवेजा के मार्गदर्शन में आज वलयाकार सूर्यग्रहण का नजारा अपने हाथों से बनाये गए 15 विभिन्न नवाचारी उपकरणों से दिखाया।
कर्नाटका भारत ज्ञान विज्ञान समिति व हरियाणा विज्ञान मंच रोहतक ने इस कवरेज को पूरे भारत के कार्यकर्ताओं के साथ लाईव साँझा भी किया।
बाल वैज्ञानिकों में पार्थवी, प्राची, रमन धींगड़ा, यश, नमन, सक्षम आहूजा, रितेश ओबराय, अंशवी बाल वैज्ञानिको ने टेलिस्कोप प्रतिबिम्बित विधि से सूर्य का प्रतिबिंब, गेंद दर्पण प्रेक्षेपक, सौर फिल्टर नेत्र, सुरक्षित सौर प्रक्षेपक, छलनी छाया उपकरण, बायनाकुलर प्रक्षेपक, बॉक्स कैमरा, पिन होल कैमरा, अनियमित छिद्रों से प्रक्षेपण व वृक्ष छाया प्रतिबिम्ब विधियों से सूर्यग्रहण का अवलोकन करके सबको आश्चर्य चकित कर दिया। इस अवसर पर बाल वैज्ञानिकों ने पृथ्वी की परिधि ज्ञात करने का प्रयोग भी किया।
विज्ञान संचारक बवेजा ने बताया कि जहां एक तरफ सभी सूर्यग्रहण को बहुत  बड़ा डर मान कर घरों में दुबके पड़े थे वही वे बाल वैज्ञानिक दुनिया को दिखा रहे थे कि भारत अब अंधविश्वास की बेड़ियों से निकल कर नए वैज्ञानिक परिवेश में आगे बढ़ रहा है।
इस अवसर पर एक सोच नई सोच संस्था के संस्थापक शशी गुप्ता ने बताया कि सूर्य ग्रहण के अवसर पर बहुत से लोग अंधविश्वास के कारण इस खगोलीय ओर भूगौलिक घटना का आनन्द लेने से महरूम रह जाते है शशी ने बताया सूर्य ग्रहण एक खोगोलिय घटना है सूर्यग्रहण के समय किसी ग्रह का हमारे जीवन और देश पर कोई विपरीत प्रभाव नही पड़ता बल्कि पूरा विश्व के वैज्ञानिक इस खोगोलिय घटना का उत्सुकता से इंतज़ार करते है उन्होंने बताया कि सूर्य ग्रहण के समय सूर्य को नंगी आंखों से देखने से बचना चाहिए और सूर्य ग्रहण के न होने पर भी हमे नंगी आंखों को से सूर्य को निरन्तर देखने से बचना चाहिये।
इस अवसर पर क्लब सहयोगी विकास ढींगरा ने बताया कि आज वे सब भी इस दुर्लभ खगोलीय घटना को किसी अंधविश्वास के साथ न जोड़ कर वैज्ञानिक प्रमाणों के साथ अवलोकन कर पाये। पहले से ही समाज में बहुत सी कुरीतियां व्याप्त है कि सूर्य या चन्द्र ग्रहण को देखने से किसी अशुभ या अनहोनी घटना का आगमन होता है। सभी भय जगाने वाली प्रचलित मान्यताओं से इतर यह सामान्य तौर पर होने वाली खगोलीय घटना ही है इसके मद्देनजर उन्होंने परिवार सहित इसके सुरक्षित अवलोकन का नज़ारा लिया।
पूरी कवरेज़ का वीडियो
Darshan Lal Baweja

No comments:

Post a Comment

टिप्पणी करें बेबाक