My Name on Mars

Friday, January 11, 2019

अंतर्राष्ट्रीय खगोलीय संगठन के 100 वर्ष 100 Years of IAU


'आई ए यू सौ घंटे खगोलीय गतिविधियां' के अंतर्गत मापी पृथ्वी की परिधि।
अंतर्राष्ट्रीय खगोलीय संगठन के
Logo, IAU
एक सौ वर्ष पूरे होने पर सी वी रमन विपनेट साइंस क्लब यमुनानगर के सदस्यों ने पृथ्वी की परिधि मापने का प्रयोग किया।
सरोजिनी कालोनी स्थित अर्जुन पार्क में क्लब सदस्य पार्थवी, पलक, पारस, पुष्टि, जैकी व प्रियंका ने मार्गदर्शक अध्यापक व क्लब समन्वयक दर्शन लाल बवेजा के मार्गदर्शन में यह प्रयोग किया।
बवेजा ने बताया कि अंतर्राष्ट्रीय खगोलीय संगठन के गठन की सौवीं वर्षगांठ के अवसर पर वैश्विक स्तर पर विभिन्न खगोलीय गतिविधियों का आयोजन किया जा रहा है जिसमें विश्व के सभी देशों के बच्चे, शौकिया व पेशेवर खगोलविद भाग ले रहे हैं।
इंटरनेशनल एस्ट्रोनॉमी यूनियन के बारे में बताते हुए बवेजा ने कहा कि पेशेवर खगोलशास्त्रियों का एक संगठन है। इसका केंद्रीय सचिवालय पेरिस, फ्रांस में है। इस संघ का ध्येय खगोलशास्त्र के क्षेत्र में अनुसन्धान और अध्ययन को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर बढ़ावा देना है। जब भी ब्रह्माण्ड में कोई नई वस्तु पाई जाती है तो खगोलीय संघ द्वारा दिए गए नाम ही अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर मान्य होते हैं।अंतर्राष्ट्रीय खगोलीय संघ का संगठन 1919 में किया गया था। तब बहुत से अन्य खगोलीय संगठनों को इसमें विलय कर दिया गया। इसके पहले अध्यक्ष फ़्रांसिसी खगोलशास्त्री बैंजामिन बैलौद थे। 100 घंटे खगोलीय गतिविधियों के नाम प्रतियोगिता के अंतर्गत विश्व भर में एक सौ घंटे विभिन्न आयोजन किये जायेंगे। विज्ञान क्लब सदस्य भी इस आयोजन में 13 जनवरी तक भाग लेंगे।
#100hoursofastronomy
#iau100
11.1.2019
C V Raman Vipnet Science Club
Arjun Park, Sarojani Colony, Yamunanagar India
Gnomon= 45 cm
Shadow= 57 cm
Latitude:30° 8'22.99"N
Longitude: 77°16'27.81"E
ie
Latitude: 30.07N
Longitude: 77.17E
Guided by
Darshan Lal Baweja of C V Raman Science Club Yamuna Nagar
Members: Parthvi, Palak, Paras, Pushti, Priyanka, Jivisha(Jaicky)
In newspaper
Reporter
Darshan Lal Baweja 

No comments:

Post a Comment

टिप्पणी करें बेबाक