My Name on Mars

Saturday, February 20, 2016

प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन TTS-MS

विज्ञान शिक्षा लोकप्रियकरण प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन हुआ
डाईट तेजली में विज्ञान शिक्षण की बारीकियों को सीखेंगे विज्ञान अध्यापक      
विज्ञान विषय की शिक्षण तकनीकों को सुधारने एवं गतिविधियों के जरिये विद्यार्थियों को विज्ञान की शिक्षा देने के उद्देश्य से जिले के सभी शिक्षा खण्डों से पचास विज्ञान अध्यापकों का प्रशिक्षण कार्यक्रम शुरू किया गया है। सर्व शिक्षा अभियान, एससीईआरटी गुडगाँव, श्रीराम फाउंडेशन व आईबीएम के सयुंक्त तत्वाधान में राज्य के सभी जिलों में टीटीएस-एमएस प्रशिक्षण कार्यक्रम में गतिविधि आधारित विज्ञान शिक्षा, प्रायोगात्मक कार्य आधारित विज्ञान शिक्षा, डिजिटल तकनीक के साथ साथ विद्यार्थियों में दक्षता के विकास हेतु विज्ञान शिक्षण-अधिगम का प्रशिक्षण दिया जाना प्रस्तावित है।
जिला शिक्षक प्रशिक्षण संस्थान तेजली में कार्यक्रम समन्वयक गीता ढींगरा व प्रभारी प्रेमलता बक्शी के साथ मास्टर ट्रेनर्स दर्शन लाल बवेजा, आस्था श्रीवास्तव, विजय कुमार ने अध्यापकों को विज्ञान प्रयोगात्मक कार्यों का प्रशिक्षण दिया। इन पचास विज्ञान अध्यापकों का चयन खंड स्तर पर किया गया है। प्रत्येक महीने के अंतिम दो शनिवार को इन अध्यापकों को प्रशिक्षण हेतु डाईट तेजली में आना होगा। इस कार्यक्रम में अध्यापकों को अपने विद्यालयों में एक साइंस कार्नर विकसित करना हैं जहां विद्यार्थियों और अध्यापक द्वारा बनायी गयी टीएलएम का प्रदर्शन होगा और समय समय पर इन विद्यालयों में निरिक्षण करने का भी प्रस्ताव है।
प्रशिक्षण कार्यक्रम का लाभ
मास्टर ट्रेनर दर्शन लाल ने बताया की इस प्रशिक्षण कार्यक्रम के द्वारा दूरदराज गावों में पढ़ा रहे विज्ञान अध्यापकों को अपडेट करने व उनको कम लागत के विज्ञान प्रयोगों से अधिकतम गतिविधियों को बनाना सिखाया जाएगा। इस कार्यक्रम से अध्यापकों को विज्ञान शिक्षण की बारीकियों से भी अवगत कराया जाएगा। बवेजा ने कहा की शिक्षण अधिगम सामग्री की सहयता से पढ़ाया गया पाठ विद्यार्थियों को आसानी से समझ आ जाता है इसलिए विज्ञान अध्यापको को चाहिए कि वो माध्यमिक कक्षाओं के बच्चों को अधिक से अधिक विज्ञान गतिविधियाँ करवाएं और उनको टी एल एम के प्रयोग से पढ़ायें।
उन्होंने विपनेट द्वारा हरियाणा राजकीय व ऐडिड के स्कूलों में विज्ञान क्लबों को ऐफिलेशन दिए जाने से सम्बंधित प्रशिक्षण दिया। उन्हें संबंद्धता फ़ार्म और आन लाइन ऐफिलेशन व रिपोर्ट भेजने का भी प्रशिक्षण दिया    
इस कार्यक्रम में खेमलाल, कश्मीरी लाल सैनी, अमृत बेदी, गुलशन कुमार, इंदरजीत सिंह, मुकेश आर्य, सुमन लता, राकेश मोहन, संजीव काम्बोज, विपिन, संजय कुमार, राकेश कुमार, रुस्तम अली, अंजू नय्यर, स्वीटी, अमित, राजेन्द्र, रवि कुमार, सुनीता आदि विज्ञान अध्यापकों ने भाग लिया।
अख़बारों में 

Darshan Lal Baweja
Science Teacher Cum Science Communicator
Secretary C V Raman Science Club Yamunanagar
Distt. Coordinator NCSC, Haryana Vigyan Manch Rohtak
09416377166
Web Links