My Name on Mars

Tuesday, November 24, 2015

राष्ट्रीय बाल विज्ञान कॉंग्रेस सम्पन्न Distt Level NCSC-15

राष्ट्रीय बाल विज्ञान कॉंग्रेस सम्पन्न
श्रेया, प्रतीक, अक्षिता, प्रिंस की टीमें राज्यस्तरीय विज्ञान सम्मेलन के लिये चयनित
बाल वैज्ञानिकों ने मौसम और जलवायु सम्बन्धित शोध पत्र प्रस्तुत किए
नैशनल कॉलेज ऑफ पॉलिटेक्निक जगाधरी में राष्ट्रीय बाल विज्ञान कॉंग्रेस सम्मलेन का आयोजन किया गया। यह विज्ञान कार्यक्रम विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग नई दिल्ली, एनसीएसटीसी नेटवर्क, हरियाणा राज्य
विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विभाग पंचकूला, जिला विज्ञान लोकप्रियकरण समिति, महर्षि वेद व्यास शिक्षण संस्थान तथा हरियाणा विज्ञान मंच, रोहतक के संयुक्त तत्त्वाधान में आयोजित किया गया। विज्ञान कॉंग्रेस सम्मेलन का शुभारम्भ महर्षि वेदव्यास शिक्षण संस्थानों के चैयरमैन श्री राज लूथरा और सचिव श्री धीरज लूथरा ने दीप प्रज्ज्वलित करके किया। 
इस कार्यक्रम में जिला शैक्षिक समन्वयक जेएस सांगवान, प्रदीप सरीन, संजय गर्ग, नरेंद्र कुमार ढिंगड़ा, सुरेन्द्र कुमार गोयल, जिला समन्वयक दर्शन लाल बवेजा, श्रीश शर्मा तथा ओमप्रकाश सैनी ने शिरकत की। प्रधानाचार्य डॉ॰ सतीश कुमार ने अपने सम्बोधन द्वारा बाल वैज्ञानिकों का उत्साहवर्धन किया और कहा की यह कार्यक्रम बच्चों में विज्ञान शोध को बढ़ावा देता है जो कि उनकी वैज्ञानिक सोच को उन्नत करने के लिए उत्प्रेरक की तरह है।
कैप्शन जोड़ें
कार्यक्रम में 26 स्कूलों से 31 टीमों, 147 बाल वैज्ञानिकों और 30 गाइड अध्यापकों ने भाग लिया। राष्ट्रीय बाल विज्ञान कॉंग्रेस सम्मेलन का इस वर्ष का मुख्य विषय मौसम और जलवायु को समझेंथा। इस प्रतियोगिता में ग्रामीण और शहरी वर्ग से सभी प्रकार के विद्यालयों के बाल वैज्ञानिक भाग लेते हैं। 
इस अवसर पर होनहार बाल वैज्ञानिक नितिन सैनी ने आपदा प्रबंधन के लिए बनायी गयी अपनी मशीन के मॉडल का भी प्रदर्शन किया और स्मार्ट सर्किट टीम के सदस्यों ने राघव व सचिन शर्मा के नेतृत्व में स्कूली बच्चों के लिए डिजाइन किये गए विज्ञान उपकरणों का भी प्रदर्शन किया।  
इस प्रतियोगिता में अक्षिता सिंघल, जिज्ञासा जिंदल, श्रेया केसवानी, स्वामी विवेकानन्द पब्लिक स्कूल जगाधरी, प्रतीक, मुकन्दलाल पब्लिक स्कूल सरोजनी कॉलोनी, प्रिंस, राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय बूड़िया, शिवानी, राजकीय आदर्श वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय छछरौली, काजल, राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय हरिपुर काम्बोज तथा गोमेद शर्मा, सरस्वती पब्लिक स्कूल जगाधरी का चयन राज्यस्तरीय विज्ञान सम्मेलन के लिये हुआ।
इस अवसर पर एक विज्ञान प्रदर्शनी का भी आयोजन किया गया जिसमें
नितिन सैनी ने प्रथम स्थान व अभिनव धीमान ने दिवितीय तथा इतेश काम्बोज ने तृतीय स्थान प्राप्त किया।
मौके पर जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी श्री आनन्द चौधरी, जिला परियोजना अधिकारी श्री रामप्रकाश तथा सर्व शिक्षा अभियान के सहायक परियोजना अधिकारी डॉ॰ धर्मवीर ने विजयी व सभी प्रतिभागी बाल वैज्ञानिकों और उनके मार्गदर्शक अध्यापकों को स्मृति चिह्न और प्रमाणपत्र देकर सम्मानित किया।
जिला समन्वयक दर्शन लाल बवेजा ने बताया कि सभी चयनित टीमें 28-29 नवम्बर को डीएवी मल्टीपरपज पब्लिक स्कूल सोनीपत में राज्य स्तरीय प्रतियोगिता में भाग लेने जायेंगी। निर्णायक मंडल में प्रोफेसर केसी ठाकुर, श्री सुरेन्द्र गोयल, श्रीमती सीमा अरोड़ा तथा श्री देवराज सिंह पुंडीर शामिल थे।
इस कार्यक्रम में ज्योतिका डाँग, श्रीश बेंजवाल शर्मा, राजकुमार धीमान, ओम प्रकाश सैनी, परमजीत मेहता, पूजा कालड़ा, दीपक शर्मा, सुमन शर्मा, अमृत बेदी, दीपिका देसवाल, रजनी पुंडीर, ज्योति गर्ग, धर्मेन्द्र सिंह, खुशवन्त सिंह, प्रभजोत कौर, श्वेता सिंह तथा कपिल कुमार का सक्रिय योगदान रहा।

Darshan Lal Baweja
Science Teacher Cum Science Communicator
Secretary C V Raman Science Club Yamunanagar
Distt. Coordinator NCSC, Haryana Vigyan Manch Rohtak
09416377166
Web Links 

Thursday, November 05, 2015

माई साइंस बॉक्स प्रोजेक्ट प्रतियोगिता My Science Box

माई साइंस बॉक्स प्रोजेक्ट प्रतियोगिता में संयम की टीम प्रथम आयुषी की टीम द्वितीय  

विद्यार्थियों ने बाक्स में एकत्र किये गए विज्ञान उपकरणों से विज्ञान के प्रयोग करके दिखाए माई साइंस बॉक्स प्रोजेक्ट प्रतियोगिता में 
हरियाणा विज्ञान मंच रोहतक व सी वी रमण विज्ञान क्लब यमुनानगर के तत्वाधान में स्वामी विवेकानंद पब्लिक स्कूल हुडा सेक्टर सत्रह के कक्षा सात के 52 विद्यार्थियों को आज साइंस बॉक्स प्रोजेक्ट के अंतिम चरण में प्रतियोगिता के जरिये सीखे गए हुनर का प्रदर्शन करने का मौका मिला। इस प्रतियोगिता में कक्षा सात के विद्यार्थियों ने अपने विज्ञान बक्से में प्रशिक्षण दौरान एकत्र किये गए विज्ञान उपकरणों का बेहतर प्रयोग करते हुए कईं हैंड्स आन एक्टिविटीज करके दिखायी। इस प्रतियोगिता के माध्यम से बच्चों ने विज्ञान विषय में अपनी समझ को विकसित किया। 
विद्यालय की प्रधानाचार्या अनीता काम्बोज ने इस प्रतियोगिता में भाग ले रहे प्रतिभागियों को व अध्यापको को संबोधित करते हुए कहा की बच्चो के पास इस साइंस बॉक्स में जो सामान उसका और भी बेहतर उपयोग तब माना जायेगा जब प्रत्येक प्रशिक्षु बच्चा कम से कम पांच अन्य बच्चों को इस गतिविधि का प्रशिक्षण देगा है। अनीता काम्बोज ने कहा की ज्ञान एक दीपक के समान है जिसकी जोत से अन्य असंख्य दीपकों को प्रज्जवलित किया जा सकता है, प्रत्येक व्यक्ति को चाहिए कि वो अपने हुनर को अपने अग्रजों को सिखाये ताकि ज्ञान कभी विलुप्त ना हो सके। 
बवेजा ने बताया की इस साइंस बॉक्स में प्रकाश के अपवर्तन, परावर्तन, विक्षेपण, बर्नौली, आर्कमडीज, न्यूटन, पास्कल, जडत्व, वायु दबाव सम्बंधित उपकरणों को शामिल करते हुए अपकेन्द्रण बल, दृष्टि भ्रम, इलेक्ट्रोनिक्स से परिचय, दिक् सूचक, घर्षण बल, अम्लीयता व क्षारीयता को जांचना, पृष्ठतनाव सम्बंधित  विज्ञान गतिविधियों को शामिल किया है। 
हरियाणा विज्ञान मंच के जिला समन्वयक दर्शन लाल ने प्रतिभागियों से कहा कि आपकी यह माई साइंस बाक्स गतिविधि आगे माई साइंस कार्नर गतिविधि में तब्दील हो जानी चाहिए। स्कूल के बाद घर पर भी अपने पाठ्यक्रम से सम्बंधित विज्ञान प्रयोगों व गतिविधियों को  दोहराने में साइंस बाक्स व साइंस कार्नर बालको की मदद करेगा।
निर्णायक के रूप में अश्विनी कुमार प्रवक्ता रसायन ने निभाई व विद्यालय की विज्ञान अध्यापिका ज्योतिका डांग, सुबुही सहगल, रीना मल्होत्रा, गौरव कुमार, विकास पुंडीर समेत दस टीम्स में 52 विद्यार्थियों ने इस प्रतियोगिता में  भाग लिया। 
इस प्रतियोगिता में संयम, आर्यन, रजत, चेतन, नकुल, सचिन प्रथम स्थान पर रहे। आयुषी, नुपुर, श्रेया, जीनत, अनिका द्वितीय स्थान पर रही। खुशी, रितिका, दीपशिखा, गजल, याशिका ने तृतीय स्थान प्राप्त किया। ये विजयी टीम्स आगामी बीस नवम्बर को नेशनल कालेज आफ पालीटेक्निक जगाधरी में राष्ट्रीय बाल विज्ञान सम्मेलन में भाग लेंगे। 
अखबारों में


प्रस्तुती
Darshan Lal Baweja
Science Teacher Cum Science Communicator
Secretary C V Raman Science Club Yamunanagar
Distt. Coordinator NCSC, Haryana Vigyan Manch Rohtak
Web Links