My Name on Mars

Friday, August 31, 2012

क्लब के सदस्यों ने लिए दुर्लभ ब्लू मून के नज़ारे Blue Moon

क्लब के सदस्यों ने लिए दुर्लभ ब्लू मून के नज़ारे Blue Moon


क्लब सदस्य ब्लू मून देखते
क्लब के सदस्यों ने लिए दुर्लभ ब्लू मून के नज़ारे
आज सी. वी. रमण विज्ञान क्लब के सदस्यों ने दुर्लभ ब्लू मून के नज़ारे लिए। विज्ञान क्लब सदस्यों अमन,आंचल,पलक,पारस,पार्थवी,स्पर्ष गम्भीर ने इस नज़ारे को देखकर नयी जानकारी अपने मस्तिष्क कोष में शामिल की।       
मेरी हथेली में चाँद
क्लब समन्वयक दर्शन लाल ने क्लब सदस्यों को ब्लू मून के बारे में बताया कि किसी भी एक कैलेंडर माह के भीतर जब दो बार पूर्णिमा पड़ती है तो इस घटना को ब्लू मून कहा जाता है। इस घटना का ब्लू मून या चांद के नीले हो जाने से किसी भी प्रकार का कोई संबंध नहीं है। खगोलीय घटनाओं के क्रम में इस साल अगस्त माह में दो बार पूर्णिमा आयी है। पहली पूर्णिमा दो अगस्त को थी व दूसरी 31 अगस्त को थी। वैज्ञानिकों के अनुसार लूनर माह तथा कैलेंडर माह के दिनों में अंतर के चलते ब्लू मून का नजारा हर तीन साल में एक बार दिखाई देता है। इस वर्ष 31 अगस्त के बाद यह नजारा तीन साल बाद 31 जुलाई 2015 में देखने को मिलेगा।
पार्थवी
एक बार में पूरे चांद के बाद 29.5 दिन की अवधि के बाद दोबारा पूरे चांद के दर्शन होते हैं। ब्लू मून का आशय यह बिलकुल नहीं कि उस दिन चांद का रंग नीला दिखाई देगा। उनके अनुसार जब पहली बार इस घटना की पुष्टि हुई थी तब संयोग वश इस घटना को ब्लू मून का नाम दे दिया गया था तब से आज तक यही नाम चला आ रहा है। 
पारस स्पर्ष
दुनिया भर में लिखी गयी बहुत सी कथा कहानियों में ब्लू मून का जिक्र हुआ है।


स्थानीय  अखबारों ने भी प्रमुखता से छापा .....
दैनिक  भास्कर
 अमर उजाला २-९-१२
प्रस्तुति: सी.वी.रमन साइंस क्लब यमुना नगर, हरियाणा
द्वारा: दर्शन बवेजा,विज्ञान अध्यापक,यमुना नगर, हरियाणा







Saturday, August 18, 2012

विज्ञान गल्प व विज्ञान कार्टून प्रतियोगिता Science Fiction or Science cartoon Competition

विज्ञान गल्प व विज्ञान कार्टून प्रतियोगिता Science Fiction or Science cartoon Competition
लोकप्रिय  विज्ञान पत्रिका साइंस रिपोर्टर के अगस्त 2012 के अंक में पाठकों के लिए विज्ञान गल्प व विज्ञान कार्टून प्रतियोगिता के आयोजन की घोषणा की गयी है
माध्यम  अंग्रेजी है
पाठक दोनों प्रतियोगिताओं में भाग ले सकता है
प्रतियोगिता में कहानी व कार्टून जमा करवाने की अंतिम तिथि १५ अक्टूबर २०१२ है 
विज्ञान गल्प शब्द सीमा २०००-२५०० शब्दों तक सिमित है 
मौलिकता का प्रमाण पत्र साथ देना है 
विजेता  प्रतिभागियों के कार्टून व कहानियां पत्रिका के आगामी अंकों में प्रकाशित होंगीं
अधिक जानकारी के लिए उपरवाले चित्र में पढ़ें
एंट्री भेजने का पता 

In English 
Science Reporter, the popular science magazine, announced Science Fiction and Science Cartoon Competition for its readers.
The readers may take part in both the competitions. In the Science Cartoon category not more than four cartoons may be sent per entrant. The cartoons should be related to scientific topics only.
In the Science Fiction category readers are requested to send only one entry per entrant. The entries must be restricted to about 2000-2500 words.
The entries should be original and should be accompanied with a certificate of originality.
There is no entry fee.
The last date is 15 October 2012.
For further information see the latest issue (August 2012) of Science Reporter.
प्रस्तुति: सी.वी.रमन साइंस क्लब यमुना नगर, हरियाणा
द्वारा: दर्शन बवेजा,विज्ञान अध्यापक,यमुना नगर, हरियाणा

Saturday, August 11, 2012

रोबोटिक्स पर दो दिवसीय कार्यशाला Two days Workshop on Robotics

रोबोटिक्स पर दो दिवसीय कार्यशाला लगाई गयी Two days Workshop on Robotics
दिनांक  11 अगस्त 2012
मुकुंद लाल पब्लिक स्कूल में रोबोटिक्स पर दो दिवसीय कार्यशाला शुरु, सी॰ वी॰ रमण विज्ञान क्लब यमुनानगर, रोबोसिस इंडिया संगठन, नई दिल्ली तथा भारतीय भौतिकी शिक्षक परिषद, यमुनानगर के संयुक्त तत्वाधान में मुकुंद लाल पब्लिक स्कूल, सरोजिनी कालोनी यमुनानगर में प्रधानाचार्या श्रीमती शशि बाटला के मार्गदर्शन में रोबोटिक्स पर दो दिवसीय कार्यशाला का आरम्भ हुआ। 
कार्यक्रम का आरम्भ मुख्य अतिथि यमुना इंस्टीच्यूट ऑफ इंजीनियरिंग ऍण्ड टैक्नोलॉजी के ऍप्लाइड साइंसिज विभाग के अध्यक्ष प्रोफेसर के॰ सी॰ ठाकुर ने दीप जलाकर किया। उन्होंने रोबोटिक्स में अभियांत्रिकी की भूमिका पर प्रकाश डाला। क्लब सचिव दर्शन लाल बवेजा ने वर्कशॉप की रूप-रेखा की जानकारी देते हुये आधुनिक विज्ञान में रोबोटिक्स के महत्व पर प्रकाश डाला। सूचना प्रोद्यौगिकी विशेषज्ञ श्रीश बेंजवाल ने रोबोटिक्स में कम्प्यूटर विज्ञान के प्रयोग की जानकारी दी।
इस कार्यशाला में दिल्ली से आये विशेषज्ञ कक्षा 10 से 12 के विद्यार्थियों को दो दिनों तक रोबोटिक्स का सैद्धान्तिक एवं प्रायोगिक ज्ञान देंगे और बच्चों से रोबोट के मॉडल भी बनवाएंगे। विशेष तौर पर तैयार की गयी रोबोटिक किट्स से बच्चे रोबोट का क्रियात्मक मॉडल तैयार करेंगे। रोबोट शिक्षा कार्यक्रम के अंतर्गत बच्चों को प्रारंभिक स्तर के रोबोट बनाने का भी प्रशिक्षण दिया जायेगा। उम्मीद है कि इस रोबो शिक्षा कार्यशाला से बच्चों की मानसिक क्षमता बढ़ेगी। 
दिल्ली के रोबोसिस इंडिया संगठन के यश कुमार, मुहम्मद सादिक व सुनील कुमार इस कार्यशाला के मुख्य प्रशिक्षण अधिकारी हैं।
क्लब प्रवक्ता संजय शर्मा ने बताया कि इस दो दिन की कार्यशाला में विभिन्न स्कूलों के कुल 35 छात्रों को प्रशिक्षित किया जाएगा। यहाँ से चुने गए कुछ छात्र आगामी चरण की कार्यशाला में प्रवेश करेंगे। कार्यशाला के समापन पर सभी प्रतिभागियों को प्रमाणपत्र भी दिए जायेंगे। इस अवसर पर प्रोफेसर के॰ सी॰ ठाकुर, डॉ॰ चन्द्रशेखर शर्मा, संजय शर्मा, श्रीश बेंजवाल, डॉ॰ ममता वर्मा, साधना मेहता, देवेन्द्र कुमार, रविन्द्र पुँज आदि का योगदान सराहनीय रहा।
अखबारों  में ......
दिनांक  12 अगस्त 2012
मुकुन्द लाल पब्लिक स्कूल में दो दिवसीय रोबोटिक्स कार्यशाला संपन्न
आज मुकुन्द लाल पब्लिक स्कूल, सरोजिनी कॉलोनी यमुनानगर में सी. वी.रमण विज्ञान क्लब के सौजन्य से चल रही दो दिवसीय रोबोटिक्स कार्यशाला सम्पन्न हुई। इस कार्यशाला में 35 विद्यार्थि
यों और 8 अध्यापकों ने प्रशिक्षण प्राप्त किया।
इस कार्यशाला में छात्रों को रोबोट बनाने सिखाए गए और विभिन्न प्रकार के रोबोटों का प्रदर्शन किया गया। इस प्रशिक्षण कार्यशाला के प्रथम चरण में छात्रों ने रोबोटिक्स का सैद्धान्तिक ज्ञान प्राप्त किया और द्वितीय चरण में स्वयं अपने हाथों से रोबोट बनाए। पाँच–पाँच छात्रों के समूह में कुल सात रोबोट बनाकर उनका क्रियात्मक प्रदर्शन किया गया।
स्कूल की प्रधानाचार्या श्रीमती शशि बाठला ने कहा कि इस तरह के कार्यशालाएँ छात्रों में विज्ञान शिक्षा के प्रति रुचि बढ़ाने में सहायक साबित होती हैं। भविष्य में हमारे जीवन में रोबोटों की महत्वपूर्ण भूमिका होगी और हमारे दैनिक जीवन के विभिन्न कार्य रोबोटों द्वारा ही संचालित किए जाएँगे। यातायात, अन्तरिक्ष विज्ञान, चिकित्सा, खनन, रक्षा, व्यावसायिक कार्यों, स्वचालित वितरण प्रणालियाँ रोबोटों द्वारा ही संचालित होंगी। उन्होंने कहा कि इस कार्यशाला में चयनित होने वाले छात्र आगामी चरण की कार्यशाला में प्रवेश करेंगे।
प्रशिक्षण चार समूहों में दिया गया।
समूह संख्या 1


समूह संख्या 2
समूह संख्या 3
समूह संख्या 4
दिल्ली से आए प्रशिक्षण अधिकारियों यश कुमार, मुहम्मद सादिक तथा सुनील कुमार ने रोबोटिक्स की सैद्धान्तिक एवं प्रायोगिक जानकारी दी। रोबोट मॉडलों का डेमो भी दिखाया गया।
रोबोट शिक्षा कार्यक्रम के अंतर्गत बच्चों को प्रारंभिक स्तर के रोबोट बनाने का भी प्रशिक्षण दिया गया। छात्रों ने विशेष तौर पर तैयार की गई रोबोटिक किट्स से रोबोट के क्रियात्मक मॉडल तैयार किए।
कार्यशाला के समापन पर मुख्य अतिथि प्रोफेसर के सी ठाकुर, चन्द्रशेखर शर्मा तथा डॉ. ममता वर्मा द्वारा सभी प्रतिभागियों को प्रमाणपत्र वितरित किए गए। इस अवसर पर दर्शनलाल बवेजा, श्रीश बेंजवाल, साधना मेहता, देवेन्द्र कुमार आदि का योगदान सराहनीय रहा।
अखबारों  में .....
अमर उजाला
दैनिक भास्कर

प्रस्तुति: सी.वी.रमन साइंस क्लब यमुना नगर, हरियाणा
द्वारा: दर्शन बवेजा,विज्ञान अध्यापक,यमुना नगर, हरियाणा

क्लब सदस्यों ने लगाई विज्ञान प्रदर्शनी Science Exhibition in DAV school

क्लब सदस्यों ने लगाई विज्ञान प्रदर्शनी Science Exhibition in DAV school
डी.ए.वी. पब्लिक स्कूल के क्लब सदस्य
सी. वी. रमण विज्ञान क्लब यमुनानगर के सदस्यों ने स्थानीय डी.ए.वी. पब्लिक स्कूल में एक विज्ञान प्रदर्शनी लगाई। इस अवसर पर पोस्टर प्रदर्शनी, पुस्तक प्रदर्शनी, कम लागत के विज्ञान प्रयोग, रोचक गणितीय ट्रिक्स व विज्ञान माडल लगाए गए।
पोस्टर प्रदर्शनी देखते छात्र
विज्ञान संचार के प्रति वचनबद्ध सी. वी. रमण विज्ञान क्लब यमुनानगर के सदस्यों ने बहुत मेहनत से व उत्साह दिखाते हुए इस प्रदर्शनी के माध्यम से बच्चों व अभिभावकों को विज्ञान से सम्बन्धित रोचक जानकारी दी। क्लब सदस्यों ने नेचर से सम्बन्धित पोस्टर्स के माध्यम से प्राकृतिक आपदा, भारतीय ओषधीय पौधे, भारत के ग्रासलैंड्स, भारत की नदियाँ, सूक्ष्मजीवों का संसार, भारत के लुप्तप्राय जंतु, पर्वत, रेगिस्तान खाद्य सुरक्षा, आइलैंड्स, जंगल, समुन्द्र, मूंगे, मैन्ग्रूव्स नम भूमि, भूमिगत जल आदि को दर्शाते पोस्टर दिखाए व समझाए गए, क्लब सदस्य गुन्जोत सिंह ने पोस्टर प्रदर्शनी की कमान संभाली। 
पुस्तक प्रदर्शनी देखते छात्र व अभिभावक
पुस्तक प्रदर्शनी पर क्लब सदस्य भारत बजाज ने बच्चों व अभिभावकों को विज्ञान से सम्बन्धित विभिन्न पुस्तकों और मैगजीन्स से परिचित करवाया। क्लब सदस्य भारत भास्कर व सूर्य गुप्ता ने अपने माडल प्रकाश का प्रयोग बक्स से अपवर्तन, परावर्तन के प्रयोग करके दिखाए। ऋतिक शर्मा ने किरोसिन आयल व कपूर के मिश्रण से मच्छर मारने की नए प्रकार की मशीन के माडल का प्रदर्शन किया। इस मशीन को बिना बिजली के चलाया जा सकता है और मच्छर इस की और आकर्षित हो कर इस में फंस जाते हैं
परास बत्रा अपने नवाचारी माडल से समझाते हुए
परास बत्रा ने अपने नवाचारी माडल से सुचालक व कुचालक पदार्थों की पहचान करना बताया। 
क्लब सदस्य हिमांशु शर्मा ने विभिन्न वनस्पतियों से तैयार एक द्रव का प्रदर्शन किया जो कि गाजर घास (कांग्रेस ग्रास) को बढ़ने से रोकता है। इनका यह फार्मूला पेटेंट के लिए आवेदित है

कम लागत के विज्ञान प्रयोग का प्रदर्शन
क्लब  सचिव दर्शन लाल विज्ञान अध्यापक ने कम लागत के विज्ञान प्रयोग, रोचक गणितीय ट्रिक्स करके बच्चों का ज्ञानवर्धन किया। नीरज व नकुल ने भी खेल खेल में विज्ञान के प्रयोग करके दिखाए।
प्रधानाचार्य व मुख्य अतिथि प्रदर्शनी का अवलोकन करते हुए
डी.ए.वी. पब्लिक स्कूल के प्रधानाचार्य वी.एस. ठाकुर व रसायन विज्ञान प्रवक्ता सुमन शर्मा, एम.एम.मेडिकल कालेज के रीडर डाक्टर अमित बाली व अभिभावकों ने प्रदर्शनी का अवलोकन किया और बच्चों से उनके माडल्स सम्बन्धित प्रश्न पूछे।
श्री आर. पी. गाँधी जी
इस  अवसर पर यमुनानगर के जाने माने तर्कशील श्री आर. पी. गाँधी जी ने बच्चों को अंधविश्वास निवारण पर बहुत ज्ञानवर्धक व्यख्यान दिया  
प्रधानाचार्य वी.एस.ठाकुर ने सी. वी. रमण विज्ञान क्लब की विज्ञान संचार के प्रति लग्न के मुक्तकंठ से प्रसंशा की और कहा कि इस प्रकार के क्लब बच्चों व अभिभावकों में विज्ञान शिक्षा के प्रति रूचि उत्पन्न करते हैं।
 इस अवसर पर क्लब की तरफ से बच्चों व स्कूल को विज्ञान पुस्तके भेंट की गई। स्कूल के बहुत से बच्चों ने क्लब की सदस्यता ग्रहण की व क्लब की आगामी गतिविधियों में भाग लेने में रूचि प्रकट की। 


प्रस्तुति: सी.वी.रमन साइंस क्लब यमुना नगर, हरियाणा
द्वारा: दर्शन बवेजा,विज्ञान अध्यापक,यमुना नगर, हरियाणा
  

Saturday, August 04, 2012

क्लब सदस्यों ने लगाई विज्ञान प्रदर्शनी Science Exhibition in MLPS

क्लब सदस्यों ने लगाई विज्ञान प्रदर्शनी Science Exhibition in MLPS
माडल प्रदर्शनी
सी. वी. रमण विज्ञान क्लब यमुनानगर के सदस्यों ने स्थानीय मुकुंद लाल पब्लिक स्कूल में एक विज्ञान प्रदर्शनी लगाई। इस अवसर पर पोस्टर प्रदर्शनी, पुस्तक प्रदर्शनी, कम लागत के विज्ञानं प्रयोग, रोचक गणितीय ट्रिक्स व विज्ञान माडल लगाए गए।
पोस्टर प्रदर्शनी
विज्ञान संचार के प्रति वचनबद्ध सी. वी. रमण विज्ञान क्लब यमुनानगर के सदस्यों ने बहुत मेहनत से व उत्साह दिखाते हुए इस प्रदर्शनी के माध्यम से बच्चों व अभिभावकों को विज्ञान से सम्बन्धित रोचक जानकारी दी। क्लब सदस्यों ने नेचर से सम्बन्धित पोस्टर्स के माध्यम से प्राकृतिक आपदा, भारतीय ओषधीय पौधे, भारत के ग्रासलैंड्स, भारत की नदियाँ, सूक्ष्मजीवों का संसार, भारत के लुप्तप्राय जंतु, पर्वत, रेगिस्तान खाद्य सुरक्षा, आइलैंड्स, जंगल, समुन्द्र, मूंगे, मैन्ग्रूव्स नम भूमि, भूमिगत जल आदि को दर्शाते पोस्टर दिखाए व समझाए गए, क्लब सदस्य सोनाक्षी ने पोस्टर प्रदर्शनी की कमान संभाली। 
पुस्तक प्रदर्शनी
पुस्तक प्रदर्शनी पर क्लब सदस्य अमन काम्बोज ने बच्चों व अभिभावकों को विज्ञान से सम्बन्धित विभिन्न पुस्तकों और मैगजीन्स से परिचित करवाया। क्लब सदस्या आंचल काम्बोज ने अपने माडल प्रकाश का प्रयोग बक्स से अपवर्तन, परावर्तन के प्रयोग करके दिखाए। शाश्वत शर्मा ने किरोसिन आयल व कपूर के मिश्रण से मच्छर मारने की नए प्रकार की मशीन के माडल का प्रदर्शन किया। इस मशीन को बिना बिजली के चलाया जा सकता है और मच्छर इस की और आकर्षित हो कर इस में फंस जाते हैं
माडल प्रदर्शनी
परास बत्रा व पार्थवी ने अपने नवाचारी माडल से सुचालक व कुचालक पदार्थों की पहचान करना बताया। क्लब सदस्य मान्वेंदर शर्मा ने विभिन्न वनस्पतियों से तैयार एक द्रव का प्रदर्शन किया जो कि गाजर घास (कांग्रेस ग्रास) को बढ़ने से रोकता है।
क्लब  सचिव दर्शन लाल विज्ञान अध्यापक ने कम लागत के विज्ञान प्रयोग, रोचक गणितीय ट्रिक्स करके बच्चों का ज्ञानवर्धन किया। अनुराग व अमन काम्बोज ने भी खेल खेल में विज्ञान के प्रयोग करके दिखाए।
मुकुंद लाल पब्लिक स्कूल की प्रधानाचार्य मैडम शशि बाठला व रसायन विज्ञान प्रवक्ता श्रीमती मंजू वर्मा, डाक्टर चंद्रशेखर शर्मा व अभिभावकों ने प्रदर्शनी का अवलोकन किया और बच्चों से उनके माडल्स सम्बन्धित प्रश्न पूछे। प्रधानाचार्य मैडम शशि बाठला ने सी. वी. रमण विज्ञान क्लब की विज्ञान संचार के प्रति लग्न के मुक्तकंठ से प्रसंशा की और कहा कि इस प्रकार के क्लब बच्चों व अभिभावकों में विज्ञान शिक्षा के प्रति रूचि उत्पन्न करते हैं। 
इस अवसर पर क्लब की तरफ से बच्चों व स्कूल को विज्ञान पुस्तके भेंट की गई। स्कूल के बहुत से बच्चों ने क्लब की सदस्यता ग्रहण की व क्लब की आगामी गतिविधियों में भाग लेने में रूचि प्रकट की। 
प्रस्तुति: सी.वी.रमन साइंस क्लब यमुना नगर, हरियाणा
द्वारा: दर्शन बवेजा,विज्ञान अध्यापक,यमुना नगर, हरियाणा