My Name on Mars

Friday, December 10, 2010

रेलवे ट्रैक का माडल बनाये और पहेली हल करें Railway Track

रेलवे ट्रैक का माडल बनाये और पहेली हल करें  Railway Track

ये एक रेलवे ट्रैक का रेखा चित्र  है |
दूरियां चित्र मे लिख दी गई है |
इंजन B मोड़ से A के तरफ  व C मोड़ से D की तरफ आराम से ट्रैक बदल सकता है चित्र मे गोल घुमाव के छोटे होने का धोखा ना खाएं |
B व C के बीच काफी दुरी है चित्र मे दुरी कम  होने का धोखा ना खाएं |
अब करना यह है कि इंजन की मदद से क एवं ख डिब्बे कि जगह बदलनी है| 
यानि क की जगह ख और ख की जगह क और इंजन को अपनी मूल जगह B व C के बीच वापस खड़ा भी करना |
इंजन दोनों और चल सकता है| 
डिब्बों का भी आग्गा पिच्छा मायने नहीं रखता  | 
इस पहेली का विज्ञान माडल बना कर विद्यार्थी प्रदर्शनी या कक्षा में दिखा सकते है 
एक खिलौना रेलवे ट्रैक खिलोनो की दूकान से या मेले से ले लेते है उसका इंजन और दो बोग्गी से चित्रानुसार मोडल बना कर इस प्रश्न को सब से पूछ सकते है ये एक खेल होगा जो दक्षता को बढ़ाएगा
यह है इस का चित्र 
अब इस का हल इन चरणों को फोलो करते हुए किया जा सकता है 
उत्तर(श्री नीरज जाट द्वारा)   
 

1. इंजन AB में जायेगा।
2. इंजन ‘क’ को लेकर वापस AB में जायेगा।
3. इंजन+क BC में जायेंगे और इंजन आगे बढकर ‘क’ को CD में छोड देगा।
4. इंजन फिर AB में जायेगा, फिर BZ पर जायेगा।
5. अब इंजन ‘ख’ की तरफ बढेगा और क तथा ख दोनों को साथ लाकर Z की तरफ आ जायेगा। यहां Z की तरफ से पहले इंजन फिर ख और फिर क होंगे।
6. अब होगा ये कि इंजन ‘क’ और ‘ख’ दोनों डिब्बों को लेकर AB की तरफ चलेगा और ‘क’ को उसकी पुरानी जगह पर छोड देगा। और ‘ख’ को लेकर वापस Z की तरफ आ जायेगा।
7. ‘क’ तो वही पर है जहां पहेली के शुरूआत में था। इंजन ‘ख’ को लेकर CD की तरफ चलेगा और उसे CD पर छोड देगा। इंजन अकेला Z की तरफ आ जायेगा।
8. पहेली तो हल हुई पडी है। इंजन AB की ओर चलकर ‘क’ को वापस Z की तरफ आ जायेगा, फिर CD की तरफ चलकर ‘क’ को ‘ख’ वाली जगह पर छोड देगा। ‘क’ की बदली तो हो गयी अब ‘ख’ रह गया है। ‘ख’ अभी भी CD पर खडा है।
9. इंजन Z की तरफ चलकर वापस AB पर चला जायेगा। फिर अपने शेड के नीचे से होता हुआ CD पर खडे ‘ख’ को साथ लाकर दोबारा AB पर आ जायेगा। अब क्या होगा कि इंजन ‘ख’ को लेकर Z की तरफ थोडा सा बढकर ‘ख’ को ‘क’ वाली जगह पर छोड देगा।
10. ‘क’ और ‘ख’ की आपस में बदली हो गयी। इंजन दोबारा AB पर जायेगा। फिर वहां से अपने शेड में जाकर खडा हो जायेगा।
हो गयी सभी शर्तें पूरी। 
प्रस्तुति:- सी.वी.रमन साइंस क्लब यमुना नगर हरियाणा
द्वारा--दर्शन बवेजा ,विज्ञान अध्यापक ,यमुना नगर ,हरियाणा
विज्ञानं संचार में अपना योगदान दें इस ब्लॉग के फालोअर बनकर   
                                   उत्साहवर्धन करें |                                  

3 comments:

  1. ये तो जी अपना रटा-रटाया उत्तर है। मैं इसे जाने कितनों से पूछ चुका हूं। लेकिन मेरे एक दोस्त को छोडकर कोई सफल नहीं हुआ।

    ReplyDelete
  2. आप तो रेलवे विशेषज्ञ है जी
    सब जानते है |

    ReplyDelete
  3. बहुत ही अच्छी जानकारी प्रदान की हैं इसके लिए आपका आभार
    हमारे ब्लॉग पर आपका स्वागत है।

    मालीगांव
    साया
    लक्ष्य

    हमारे नये एगरीकेटर में आप अपने ब्लाग् को नीचे के लिंको द्वारा जोड़ सकते है।
    अपने ब्लाग् पर लोगों लगाये यहां से
    अपने ब्लाग् को जोड़े यहां से

    ReplyDelete

टिप्पणी करें बेबाक