My Name on Mars

Thursday, December 30, 2010

विज्ञान पहेली -3 Science Quiz -3 (और पहेली -2 का उत्तर)

विज्ञान पहेली -3 Science Quiz -3 (और पहेली -2 का उत्तर)
अफ़सोस के साथ बताना पड़ रहा है पिछली पहेली की तरह इस पहेली का भी कोई ना दे सका जवाब 
गूगल पर ढूंढना आसान नहीं होता और सब कुछ हो गूगल पर ये जरूरी भी नहीं है 
इस् ब्लॉग के अर्धमासिक पहेली का जवाब देना आसान नहीं होगा यह नहीं सोचा था इसलिए इस् बार थोड़ी सी आसान पहेली दे रहा हूँ, खैर पोस्ट लिखने तक ३६७ विजिट इस् पोस्ट की आंकड़ों में शो हो रही है|
कठिन पहेलियों के लिए जाना जाएगा ये ब्लॉग 
 पहेली -2 का उत्तर 
यह कंकाल आन्ध्रा विश्वविद्यालय (विशाखापट्टनम) के जूलोजी विभाग में लगा है 
और इस का नाम बलीन व्हेल  Baleen Whale है | 1949 में बापतला  तट (Bapatala Coast)  आंध्र प्रदेश राज्य से लिया गया अपनी मौत के समय यह ८० फीट लंबी वयस्क थी |
गूगल पर आप यहाँ खोज सकते थे | और यहाँ भी
डायनासौर के बाद पृथ्‍वी का सबसे बड़ा जीवित जीव और बलीन व्‍हेल समुदाय की सदस्‍य। इनकी अधिकतम लंबाई 30 मीटर और 100-150 टन तक वजन हो सकता है।
* इनका हृदय एक कार जितना बड़ा होता है।
* इनके मुंह में 100 लोग समा सकते हैं।
*
बलीन व्‍हेल की औसत उम्र 110 साल होती है।
* ये जेट इंजन से भी तेज आवाज पैदा कर सकती हैं और इतनी धीमी आवाज भी कर सकती हैं, जिसे मनुष्‍य सुन नहीं सकता है।
* सामान्‍यत: व्‍हेल उत्‍तरी अटलांटिक, उत्‍तरी प्रशांत और अंटार्कटिका क्षेत्रों में पाई जाती हैं।

और अब 
विज्ञान पहेली -3 Science Quiz -3
चित्र  में दिखाई गयी मशीन(ये उस का मोडल है) का नाम बताईये 
पूरा नाम दो शब्दों का है वो ही बताना है?




आरम्भ दिनाँक - 30-12-2010


बंद  दिनाँक (९ शाम)- 15-01-2011




प्रस्तुति:- सी.वी.रमन साइंस क्लब यमुना नगर हरियाणा
द्वारा--दर्शन बवेजा ,विज्ञान अध्यापक ,यमुना नगर ,हरियाणा
विज्ञानं संचार में अपना योगदान दें इस ब्लॉग के फालोअर बन कर     
                                        उत्साहवर्धन करें |                                  


     

Sunday, December 26, 2010

पांच महत्त्वपूर्ण विज्ञानं वेबसाईट्स भाग -२ 5 importent science websites Part-2

पांच महत्त्वपूर्ण विज्ञानं वेबसाईट्स भाग -२  5 importent science websites Part-2
विज्ञान से सम्बंधित कुछ महत्त्वपूर्ण,उपयोगी,प्रसिद्ध 5 और  विज्ञानं साईट्स के लिंक
6.http://www.sciencenetlinks.com
  इस  वेबसाईट  पर आप जानोगे दुनिया भर की विभिन्न स्रोत साईटों के लिंक    इंटरनेट पर छात्रों के लिए उपयोगी वेबसाईट  |
7.http://nobelprize.org
   इस  वेबसाईट  पर आप जानोगे आज तक के नोबल प्राईज़ विजेताओं के बारे में और उन के लेक्चर 
8.http://www.nasa.gov/
   इस  वेबसाईट  पर आप जानोगे नासा द्वारा संचालित अंतरिक्ष परियोजनाओं का विस्तार से विवरण और अंतरिक्ष के सुंदर चित्र और वीडियो वा जी वाह 
9. hhttp://www.webopedia.com/
   इस  वेबसाईट  पर आप जानोगे कम्प्यूटर व इंटरनेट से सम्बन्धित शब्दों के परिभाषा एवं विवरण   ,इस साईट पर सर्च की भी सुविधा है आप अपने मतलब का ज्ञान एक क्लिक में खोज सकते है अजमा कर देखों 
10. http://www.biology-online.org/  
     इस  वेबसाईट  पर आप जानोगे जीवविज्ञान सम्बन्धित जानकारियों का खज़ाना छात्रों,
   अनुसंधानकर्ताओं एवं सभी के लिए जीवविज्ञान की बेहतरीन साईट |यहाँ अन्य जीवविज्ञान से सम्बन्धित साईटों के लिंक भी दिये गए है | जीवविज्ञान  विषय पर  पढ़े आर्टिकल्स |
आगे भी आपको जल्द ही और भी जानकारी पूर्ण विज्ञानं साईट्स के लिंक्स दिए जाएँगे |

प्रस्तुति:- सी.वी.रमन साइंस क्लब यमुना नगर हरियाणा
द्वारा--दर्शन बवेजा ,विज्ञान अध्यापक ,यमुना नगर ,हरियाणा
विज्ञानं संचार में अपना योगदान दें इस ब्लॉग के फालोअर बन कर     
                                        उत्साहवर्धन करें |                                  




Tuesday, December 21, 2010

सोख्ता गडढा बनाएँ और जल बचाएं Soakage pit for proper disposal of waste water

                       *शतकीय पोस्ट*

सोख्ता गडढा  बनाएँ और जल बचाएं Soakage pit for proper disposal of waste water
हैंडपम्प,पानी पीने की जगह पर शुद्ध जल की एक बड़ी मात्रा बेकार जाती है जो की नाली में बह  जाती है या फिर वहीँ आस पास एकत्र हो कर कीचड बनाती है इन स्रोतों के पास जल एकत्र होता रहता है जो मच्छरों को खुला निमंत्रण देता है जिस कारण बीमारियाँ फैलती है
क्लब सदस्यों ने विद्यालय में ये ही समस्या देखी और फैसला लिया के जल पीने के स्थान पर एक सोख्ता गड्ढा बनाया जाएगा |
आओ जाने सोख्ता गड्ढा  क्या होता है ?
1mx1mx1m का एक गड्ढा जो की बेकार हुए शुद्ध जल को पुनः भूमि के भीतर पहुंचाने का कार्य करता है
इस को घरों में भी बनाया जा सकता है|
यह सोख्ता गड्ढा हैण्डपम्पो के पास बनाया जाए तो बहुत लाभ होता है |
बनाने की विधि:-निम्न बिंदुओं के अनुरूप कार्य कर के हम इसको बना सकते है|
1.सोख्ता गडढा वहीँ बनायें जहाँ पानी वेस्ट होता हो |
soakage_pit-1 soakage_pit-2
2. सोख्ता गडढा  की लम्बाई,चोड़ाई और गहराई =1मीx1मीx1मी  
3.इस् गड्ढे के बीचो बीच 6इंच व्यास  का 15 फीट का बोर करें(उपर के दो चित्र)
soakage_pit-3 IMG_3592 soakage_pit-5
4.अब इस् बोर में पिल्ली ईंटों (नरम ईंटों) की रोड़ी भरें|
5.अब नीचे 1/4 भाग में 5इंचx6इंच साईज़ के ईंटों के टुकड़े,फिर1/4 भाग में 4इंचx5इंच साईज़ के ईंटों के टुकड़े भर देते है| (उपर के तीन चित्र)
soakage_pit-6 soakage_pit-7
6.शेष 1/4 भाग में बजरी (2इंचx2इंच साईज़) भर देते है|
7.अब 6 इंच की एक परत मोटे रेत की बना देते है|(उपर के दो चित्र)
8.एक मिट्टी का घड़ा या पलास्टिक का डिब्बा लेकर उस में सुराख कर देते है फिट उस में नारियल की जटाएं या सुतली जूट भर देते है यह इसलिए कि पानी के साथ आने वाला ठोस गंद उपर ही रह जाएगा और कभी कभी सफाई करने के लिए भी सुविधा हो जाएगी
soakage_pit-8 soakage_pit-9
9.अब निकास नाली को इस घड़े या डिब्बे के साथ जोड़ देते है वेस्ट पानी इस में सबसे पहले आएगा|   
10.खाली बोरी से गड्ढे को ढक देते है|
11.बोरी के उपर मिट्टी डाल कर गड्ढे को ईंटों से बंद कर देते है|
12.अब तैयार हो गया सोख्ता गड्ढा(उपर के तीन चित्र)
soakage_pit-13     soakage_pit-12
अब यह गड्ढा प्रतिदिन लगभग 200 लीटर बेकार पानी को 5-6 सालों तक सोख्ता रहेगा|कक्षा दशम के छात्र दिलबाग सिंह ,योगेश ,अक्षय ,गुरदीप व साथीयों ने बनाया |
soakage_pit-14   नोट : गड्ढे की गहराई एक मीटर से कम ना हो क्यूँकी 0.9 मीटर तक जमीन में एरोबिक जीवाणु aerobic bacteria होते है ये जीवाणु वेस्ट पानी के कार्बनिक पदार्थों का विघटन करते है और पानी को स्वच्छ करते है |
गड्ढे की लम्बाई चोड़ाई बडाई जा सकती है पर गहरी 1मी. से अधिक ना हो क्यूँकी एरोबिक जीवाणु 0.9 मी.से नीचे वायु के आभाव में जीवित नहीं रहते और तब जीवाणु द्वारा होने वाली प्रक्रिया नहीं हो पाती और गन्दा जल ही जमीन में चला जाएगा|
 
 प्रस्तुति:- सी.वी.रमन साइंस क्लब यमुना नगर हरियाणा
द्वारा--दर्शन बवेजा ,विज्ञान अध्यापक ,यमुना नगर ,हरियाणा

Wednesday, December 15, 2010

विज्ञान पहेली -2 science Quiz-2

विज्ञान पहेली -1 science Quiz-1 का उत्तर 
निरी-झर NEERI-ZAR 
इस् के बारे में विस्तार से यहाँ देखे 
 डा. नूतन निति और बेनामी जी ने ही इस की विधि का नाम लिखा बाकी गलत उत्तर की टिप्पणीयाँ प्रकाशित नहीं की जा रही हैं |
परन्तु  ये उत्तर सही नहीं है इस  फिल्टर का नाम पूछा गया था 
सभी  प्रतिभागियों का धन्यवाद 
विज्ञान पहेली -2 science Quiz-2
भारत  के किसी विश्वविद्यालय में यह एक फिश यानि  मछली का कंकाल रखा है

आपने उस विश्वविद्यालय का नाम बताना है|
मछली का नाम भी बता दे तो क्या बात है ?
आरम्भ दिनाँक - 15-12-2010  


बंद  दिनाँक (९ शाम)- 30-12-2010

प्रस्तुति:- सी.वी.रमन साइंस क्लब यमुना नगर हरियाणा
द्वारा--दर्शन बवेजा ,विज्ञान अध्यापक ,यमुना नगर ,हरियाणा

Friday, December 10, 2010

रेलवे ट्रैक का माडल बनाये और पहेली हल करें Railway Track

रेलवे ट्रैक का माडल बनाये और पहेली हल करें  Railway Track

ये एक रेलवे ट्रैक का रेखा चित्र  है |
दूरियां चित्र मे लिख दी गई है |
इंजन B मोड़ से A के तरफ  व C मोड़ से D की तरफ आराम से ट्रैक बदल सकता है चित्र मे गोल घुमाव के छोटे होने का धोखा ना खाएं |
B व C के बीच काफी दुरी है चित्र मे दुरी कम  होने का धोखा ना खाएं |
अब करना यह है कि इंजन की मदद से क एवं ख डिब्बे कि जगह बदलनी है| 
यानि क की जगह ख और ख की जगह क और इंजन को अपनी मूल जगह B व C के बीच वापस खड़ा भी करना |
इंजन दोनों और चल सकता है| 
डिब्बों का भी आग्गा पिच्छा मायने नहीं रखता  | 
इस पहेली का विज्ञान माडल बना कर विद्यार्थी प्रदर्शनी या कक्षा में दिखा सकते है 
एक खिलौना रेलवे ट्रैक खिलोनो की दूकान से या मेले से ले लेते है उसका इंजन और दो बोग्गी से चित्रानुसार मोडल बना कर इस प्रश्न को सब से पूछ सकते है ये एक खेल होगा जो दक्षता को बढ़ाएगा
यह है इस का चित्र 
अब इस का हल इन चरणों को फोलो करते हुए किया जा सकता है 
उत्तर(श्री नीरज जाट द्वारा)   
 

1. इंजन AB में जायेगा।
2. इंजन ‘क’ को लेकर वापस AB में जायेगा।
3. इंजन+क BC में जायेंगे और इंजन आगे बढकर ‘क’ को CD में छोड देगा।
4. इंजन फिर AB में जायेगा, फिर BZ पर जायेगा।
5. अब इंजन ‘ख’ की तरफ बढेगा और क तथा ख दोनों को साथ लाकर Z की तरफ आ जायेगा। यहां Z की तरफ से पहले इंजन फिर ख और फिर क होंगे।
6. अब होगा ये कि इंजन ‘क’ और ‘ख’ दोनों डिब्बों को लेकर AB की तरफ चलेगा और ‘क’ को उसकी पुरानी जगह पर छोड देगा। और ‘ख’ को लेकर वापस Z की तरफ आ जायेगा।
7. ‘क’ तो वही पर है जहां पहेली के शुरूआत में था। इंजन ‘ख’ को लेकर CD की तरफ चलेगा और उसे CD पर छोड देगा। इंजन अकेला Z की तरफ आ जायेगा।
8. पहेली तो हल हुई पडी है। इंजन AB की ओर चलकर ‘क’ को वापस Z की तरफ आ जायेगा, फिर CD की तरफ चलकर ‘क’ को ‘ख’ वाली जगह पर छोड देगा। ‘क’ की बदली तो हो गयी अब ‘ख’ रह गया है। ‘ख’ अभी भी CD पर खडा है।
9. इंजन Z की तरफ चलकर वापस AB पर चला जायेगा। फिर अपने शेड के नीचे से होता हुआ CD पर खडे ‘ख’ को साथ लाकर दोबारा AB पर आ जायेगा। अब क्या होगा कि इंजन ‘ख’ को लेकर Z की तरफ थोडा सा बढकर ‘ख’ को ‘क’ वाली जगह पर छोड देगा।
10. ‘क’ और ‘ख’ की आपस में बदली हो गयी। इंजन दोबारा AB पर जायेगा। फिर वहां से अपने शेड में जाकर खडा हो जायेगा।
हो गयी सभी शर्तें पूरी। 
प्रस्तुति:- सी.वी.रमन साइंस क्लब यमुना नगर हरियाणा
द्वारा--दर्शन बवेजा ,विज्ञान अध्यापक ,यमुना नगर ,हरियाणा
विज्ञानं संचार में अपना योगदान दें इस ब्लॉग के फालोअर बनकर   
                                   उत्साहवर्धन करें |                                  

Tuesday, December 07, 2010

पांच महत्त्वपूर्ण विज्ञानं वेबसाईट्स भाग -१ 5 importent science websites पार्ट -२

पांच महत्त्वपूर्ण विज्ञानं वेबसाईट्स भाग -१  5 importent science websites पार्ट -२

आज  से इस ब्लॉग पर में विज्ञान से सम्बंधित कुछ महत्त्वपूर्ण,उपयोगी,प्रसिद्ध  विज्ञानं साईट्स के लिंक दूंगा  
अभी पहली पांच 
1.http://www.howstuffworks.com/
इस  वेबसाईट  पर आप जानोगे कि विभिन्न उपकरण एवं और वस्तुएं कैसे कार्य करती है | आप यहाँ पर किसी भी उपकरण की खोज कर सकते है विज्ञान की मेरी मनपसंद वेबसाईट है ये 
2.http://www.exploratorium.edu/
इस  वेबसाईट  पर आप जानोगे उन संग्राहलयों के बारे में जो विज्ञानं ,कला , मानविकी से सम्बंधित है
3.http://www.scicentral.com/
इस  वेबसाईट  पर आप जानोगे  विज्ञान के विभिन्न विषयों से सम्बंधित नवीनतम खबरें जैसे  ताज़ा खबर New technique for antihydrogen synthesis promises answers to mysteries of antimatter
4.http://www.scidev.net/en/
इस  वेबसाईट  पर आप जानोगे  विज्ञान व तकनीक से सम्बन्धित प्रमाणिक व विश्वसनीय जानकारी तथा उनका विकासशील देशो में आर्थिक व सामाजिक विकास पर क्या प्रभाव होगा |    
5.http://www.popsci.com/  
पोपुलर साईंस मेगजीन के यह आधिकारिक साईट है इस विज्ञान पत्रिका में आकाश गंगा का 3-D टूर मात्र ९० सेकंड में  देख सकते है(Video: A 3-D Tour of All the Known Galaxies, In 90 Seconds) आकाशगंगा  की सैर करने का मज़ा ले और इस साईट का नियमित भ्रमण करते रहे |
धन्यवाद  सहित 
आगे भी आपको जल्द ही और भी जानकारी पूर्ण विज्ञानं साईट्स के लिंक्स दिए जाएँगे |

प्रस्तुति:- सी.वी.रमन साइंस क्लब यमुना नगर हरियाणा
द्वारा--दर्शन बवेजा ,विज्ञान अध्यापक ,यमुना नगर ,हरियाणा
विज्ञानं संचार में अपना योगदान दें इस ब्लॉग के फालोअर बन कर     
                                        उत्साहवर्धन करें |